खट्टर सरकार ने सोमवार-मंगलवार को बाजार बंद करने के ऐलान के बाद राज्य के अलग-अलग क्षेत्रों में जबरदस्त विरोध हो रहा है प्रधान ने कहा कि सभी खोलेंगे दुकानें, चालान कटे तो प्रशासन को चाबियां तक सौंप देंगे।

हरियणा में सोमवार-मंगलवार को बाजार बंद करने के खिलाफ़ उतरे प्रधान, कहा- दुकानें खुलेंगी, प्रशासन को सौंपेंगे चालान

शहर के बाजार प्रमुख ने शनिवार और रविवार को बाजार और मॉल खोलकर सोमवार और मंगलवार को दुकानें बंद करने के सरकार के फैसले का कड़ा विरोध किया है। प्रधानों ने कहा कि सोमवार-मंगलवार को दुकानें बंद नहीं रहेंगी, भले ही प्रशासन कोई कार्रवाई करे। साथ ही प्रधानों ने चेतावनी भी दी कि अगर सोमवार को चालान काटा गया तो वे दुकानों की चाबी प्रशासन को सौंपकर अनिश्चितकाल के लिए दुकानें बंद करा देंगे। दुकानदारों के विरोध पर, सांसद संजय भाटिया ने कहा कि बाजार के नेता को अपने सुझाव लिखित में देने चाहिए। उनकी मांग को उचित मंच पर सरकार तक पहुंचाया जाएगा। वहीं, डीसी धर्मेंद्र सिंह ने कहा कि सरकार ने कुछ सोच समझकर फैसला लिया होगा। फिर भी, दुकानदारों से बात करके समाधान खोजने का प्रयास किया जाएगा। शहरी विधायक प्रमोद विज ने कहा कि यह नियम पूरे राज्य के लिए है। फिर भी, यदि हमारे व्यापारियों, दुकानदारों को कोई समस्या है, तो वे संबंधित मंत्री को अपनी बात बताएंगे।

दुकानदारों के 3 तर्क, सरकार के फैसले को क्यों खारिज किया गया :-
1. जब बसें पूरी सवारी से चल रही हों तो कोरोना फैलता नहीं है
दुकानदारों ने कहा कि अगर कोरोना बंद करना है तो कड़े कदम उठाने होंगे। लॉकडाउन को सख्ती से लागू किया जाना चाहिए। ढाबे खुले हुए हैं, लोग होटलों में पिकनिक मना रहे हैं, बसों में खचाखच भरे हुए हैं। मॉल का नियंत्रण नहीं है। क्या कोरोना केवल छोटे दुकानदारों द्वारा फैलता है?

2. फैसले से पहले व्यापारिक संगठनों से क्यों नहीं पूछा गया
सरकार के पास व्यापारिक संगठन भी हैं। क्या सरकार इतना बड़ा फैसला लेने से पहले व्यापारियों से नहीं पूछ सकती। कुछ लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए इतना बड़ा कदम उठाया गया। यह काला कानून है। सरकार को यह फैसला वापस लेना चाहिए।
3. पानीपत में सोमवार-मंगलवार को दुकानें बंद रहेंगी, यह जानने के लिए बाहर से आने वाले व्यापारी क्या करते हैं
पानीपत में सामान खरीदने के लिए बाहर से लोग आते हैं। 40 वर्षों से रविवार को बाजार बंद रखने की परंपरा रही है। अब सोमवार-मंगलवार को भी बंद करने का आदेश दिया। क्या बाहर के लोग इसे जानते हैं? कर्मचारियों की छुट्टी निर्धारित है। सोमवार-मंगलवार को बैंक काम करते हैं। कैसे सब कुछ व्यवस्थित होगा।
सभी बाजारों के प्रमुखों की बैठक: इंसार बाजार चौक लालजी मंदिर में संयुक्त व्यापार मंडल की बैठक हुई। इसमें संयुक्त व्यापार मंडल के प्रधान, सुनील अरोड़ा, रेलवे रोड के प्रमुख, अनिल मदान, विधवा बाजार के प्रमुख दर्शन लाल वाधवा, सनोली रोड के प्रमुख सुनील चावला, गीता के योगेश अरोड़ा मंदिर, सतपाल रेवड़ी, दीपक अरोड़ा, संजय वर्मा, राजीव सोनी, नरेश हांडा, लकी मेहता, सरदार अमरजीत सिंह, शिवराज अरोड़ा, संजीव अरोड़ा, अशोक अरोड़ा, गौरव निखा, सुनील मुंजाल, हिमांशु कटारिया आदि उपस्थित थे।

Similar News

Sign up for the Newsletter

Join our newsletter and get updates in your inbox. We won’t spam you and we respect your privacy.