प्रधानमंत्री मोदी के 70 वें जन्मदिन को गुरुवार को विपक्षी दलों और छात्र संगठनों ने राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया।

पीएम मोदी के जन्मदिन पर भी गूंजा बेरोजगारी का मुद्दा , विरोध में उतरा विपक्ष, राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस मनाया

राजधानी लखनऊ में विरोध प्रदर्शन हुए। कई स्थानों पर प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया गया और पुलिस ने भी हंगामा किया। मुख्यमंत्री के आवास, हजरतगंज, कैसरबाग, परिवार चौक, लखनऊ विश्वविद्यालय सहित कई कॉलेजों और अन्य स्थानों पर विरोध प्रदर्शन हुए। मुख्यमंत्री आवास के बाहर सपा छात्र सभा की राज्य छात्रा पूजा यादव के नेतृत्व में प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने हाथों में चूड़ियां लेकर भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इसके बाद, पुलिस ने लाठियां भांजीं और प्रदर्शन का नेतृत्व कर रही पूजा यादव सहित सभी छात्र कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

इस बीच, बेरोजगारी के मुद्दे पर, समाजवादी पार्टी की जिला और शहर इकाई की महिलाओं को सड़क पर ले जाया गया, सआदत अली खान की समाधि के पास पुलिस ने रोक दिया। महिलाएं जिला कार्यालय से डीएम कार्यालय जा रही थीं। इस दौरान महिलाओं और पुलिस के बीच काफी संघर्ष हुआ। महिलाओं ने सड़क पर बैठकर नारेबाजी की। वहीं, सपा छात्र सभा ने छात्र नेता महेंद्र सिंह यादव के नेतृत्व में छात्रों से भीख मांगते हुए लखनऊ विश्वविद्यालय के गेट नंबर एक पर विरोध प्रदर्शन किया। सूचना मिलने पर पुलिस ने सभी को हिरासत में ले लिया और पुलिस लाइन भेज दिया।

महेंद्र सिंह यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री वादों के साथ सरकार में आए थे। वे वादे आज उनके जुमलों में तब्दील हो गए हैं। सपा कार्यकर्ताओं ने हजरतगंज के शिया कॉलेज में प्रदर्शन किया। हाथ में समोसा लेकर हजरतगंज चौराहे पर बढ़ती बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस के युवा कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। यहां से, छात्र नेता शिवम त्रिपाठी, शाहनवाज़ आलम, एसएम आज़मी के साथ पुलिस ने कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया और उन्हें इको गार्डन भेज दिया।
AAP मैन पार्टी के छात्रसंघ के प्रदेश अध्यक्ष वंशराज दुबे के नेतृत्व में कार्यकर्ता बेरोजगारी, निजीकरण सहित सरकार की नीतियों के विरोध में गुरुवार को परिव्रतन चौक पहुंचे। जब कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी, तो वे पुलिस से भिड़ गए। पुलिस ने तब भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया। इस अवसर पर, बंशराज दुबे ने कहा कि सरकार युवाओं को दो करोड़ रोजगार देने का वादा करके सत्ता में आई थी, लेकिन अब वह वादा भूल गई, सरकार रोजगार छीनने में लगी है।

Similar News

Sign up for the Newsletter

Join our newsletter and get updates in your inbox. We won’t spam you and we respect your privacy.