रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने स्वदेश निर्मित हल्के लड़ाकू विमान (एलसीए) तेजस में गुरुवार को बेंगलुरु में एलएएल हवाईअड्डे से उड़ान भरी। बताया जा रहा है कि तेजस लड़ाकू विमान में उड़ान भरने वाले राजनाथ सिंह पहले रक्षा मंत्री हैं।

राजनाथ सिंह ने स्वदेशी लड़ाकू विमान 'तेजस' में भरी उड़ान, ऐसा करने वाले पहले रक्षा मंत्री

उड़ान भरने से पहले भारतीय वायु सेना के अधिकारियों ने राजनाथ सिंह को इसका ब्यौरा दिया। इससे पहले समाचार एजेंसी ने एक तस्वीर जारी की, जिसमें उड़ान भरने से पहले राजनाथ सिंह फ्लाइंग पोशाक में दिखे। इस तेजस को हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड ने तैयार किया है।

जिस तेजस में राजनाथ हुए सवार, जानें वह दुश्मनों के लिए है कितनी घातक

राजनाथ के साथ एयर वाइस मार्शल एन तिवारी भी थे। तिवारी बेंगलुरू में एयरोनॉटिकल डवल्पमेंट एजेंसी (एडीए) के नेशनल फ्लाइट टेस्ट सेंटर में परियोजना निदेशक हैं। रक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया था कि रक्षा मंत्री ''स्वदेश निर्मित तेजस के विकास में शामिल रहे अधिकारियों का मनोबल बढ़ाने के लिए यह ''उड़ान भर रहे हैं। उन्होंने कहा, ''इससे इन विमानों को उड़ा रहे भारतीय वायु सेना के पायलटों का मनोबल भी बढ़ेगा। समाचार एजेंसी ने तेजस में उड़ान भरते हुए राजनाथ सिंह का वीडियो भी जारी किया है।

इससे पहले केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से दो तस्वीरें ट्वीट की औऱ लिखा- ऑल सेट फॉर द डे।

भारतीय वायु सेना ने तेजस विमान के पहले बैच को बेड़े में शामिल कर लिया है। जिस स्वदेशी तेजस में रक्षा मंत्री ने उड़ान भरी है, वह दो सीटों वाला है।  तेजस हवा से हवा और हवा से जमीन में मार कर सकता है।

आकाश के साथ समंदर की भी निगहबानी करेगा फाइटर प्लेन तेजस

गौरतलब है कि सैन्य विमानन नियामक सेमिलैक से हल्के लड़ाकू विमान तेजस को फाइनल ऑपरेशनल क्लीयरेंस (एफओसी) मिलने के बाद सरकार के स्वामित्व वाले हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड ने भारतीय वायु सेना को इस साल के अंत तक 16 तेजस लड़ाकू विमानों की आपूर्ति के लिए तैयारी बढ़ा दी है।



Similar News

Sign up for the Newsletter

Join our newsletter and get updates in your inbox. We won’t spam you and we respect your privacy.