इस कोरोना काल में यूपी-बिहार सहित कई राज्यों ने स्कूल खोल दिया है लेकिन कुछ राज्यों में अभी भी स्कूल बंद हैं। इसी तरह से महाराष्ट्र सरकार ने भी स्कूल खोलने का फैसला लिया है।

यूपी-बिहार सहित कई राज्यों में दिवाली के बाद खुल जाएगा स्कूल।

सूबे के मुख्यमंत्री कोटव ठाकरे ने इस संबंध में कहा है कि हम सभी एहतियाती कदम उठाते हुए दिवाली के बाद स्कूलों को फिर से खोलने पर विचार कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओ दिल्ली में कोरोनावायरस मामले के बढ़ते मामलों के मद्देनजर अगले आदेश तक स्कूल बंद रखने का फैसला केजरीवाल सरकार ने पिछले दिनों लिया है। छेदतीसगढ़ सरकार ने कहा: आंध्र प्रदेश में स्कूल खुल गए हैं। सूबे के मुख्‍यमंत्री वाईएस जगन रेड्डी ने पिछले महीने कहा था कि राज्‍य के स्‍कूल 2 नवंबर से खुल जाएंगे।

वहीं छ्रेडतीसगढ़ सरकार ने कहा है कि सूबे में कोरोना की स्थिति को देखते हुए वर्तमान में शकुल बंद रखा जाएगा। भारत प्रदेश, बिहार, जम्ममू-इंस्टा, इंद्राखंड सहित कई राज् यों में 15 अकटातिक से शकुल खुल चुके हैं। अरुणाचल प्रदेश और तमिलनाडु में 16 से खुलेंगे। स्कूल: अरुणाचल प्रदेश और तमिलनाडु में 16 नवंबर यानी दिवाली के बाद से स्कूल खुलेंगे। अरुणाचल प्रदेश में जहां 10 वीं से 12 वीं तक के छात्रों के लिए दिवाली के बाद स्कूल खुलेंगे।

वहीं, टीएम में 9 वीं से 12 वीं तक के छात्रों के लिए कक्षा चलाने का निर्णय सरकार की ओर से किया गया है। इन दोनों राज्यों में स्कूल जाने वाले छात्रों के लिए संकाय लगाना आवश्यक है। गो के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा है कि 10 वीं से 12 वीं कक्षा तक के छात्रों के लिए स्कूल 21 नवंबर से खुल जाएगा। सभी स्कूलों को कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना जरूरी है। राज्य सरकार इस संबंध में जल्द ही गाइडलाइंस जारी करने का काम करेगी। इधर, हरियाणा में 16 नवंबर से राज्य के सभी स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय खुलेंगे। बंगाल में एक दिसंबर से खुल सकते हैं स्कूल कॉलेज
पश्चिम बंगाल की ममता सरकार ने कोरोना के मामलों को देखते हुए 30 नवंबर तक राज्य के सभी शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का आदेश दिया है। यदि 30 नवंबर के बाद हालात राज्य सरकार को सामान्य लगते हैं औ लगता उन्हें लगता है कि अब स्कूल कॉलेज खोला जा सकता है तो 1 दिसंबर से स्कूल खोलने पर सरकार फैसला ले सकती है। झारखंड सरकार ने कोरोनावायरस के संक्रमण की वजह से जारी लॉकडाउन में छूट के लिए जो नई दिशा-निर्देश जारी किए हैं, उसमें सरकार ने क्लासरूम को चालू करने की अभी अनुमति नहीं दी है। सिर्फ विभिन्न परीक्षाओं के लिए पंजीकरण के उद्देश्य से छात्रों को स्कूल या कॉलेज में बुलाने की परमिशन दी है।

Similar News

Sign up for the Newsletter

Join our newsletter and get updates in your inbox. We won’t spam you and we respect your privacy.