अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने एक बार फिर अलीबाबा समूह के Alipay सॉफ्टवेयर समेत चीन के 8 सॉफ्टवेयर पर बैन लग दिया।

डोनाल्ड ट्रम्प ने 8 चीनी सॉफ्टवेयर लेनदेन पर प्रतिबंध लगा कर एक बार फिर चीन को करारा झटका दिया

वर्ष 2020 चीनी देशों के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं था, क्योंकि भारत सहित कई देशों ने गोपनीयता को ध्यान में रखते हुए पिछले साल कई चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था। वहीं, नए साल की शुरुआत के साथ ही चीन को एक बार फिर बड़ा झटका लगा है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चीन में कुल 8 सॉफ्टवेयर लेनदेन पर प्रतिबंध लगाने वाले एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं। इन आठ सॉफ़्टवेयरों की सूची में अलीबाबा चींटी समूह के Alipay शामिल हैं।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, 8 चीनी सॉफ्टवेयर्स के लेन-देन पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने प्रतिबंध लगा दिया है। उनमें से कोई भी अब उपयोग नहीं किया जाएगा। यानी अमेरिका में इन 8 सॉफ्टवेयर का कोई आधिकारिक लेन-देन नहीं होगा। रिपोर्ट के अनुसार, यह आदेश लागू कानून के तहत, आदेश की तारीख के 45 दिन बाद लागू होगा। यानी 45 दिनों के बाद इन 8 सॉफ्टवेयर पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

जिसके बाद इन सॉफ्टवेयर का लेनदेन संयुक्त राज्य के अधिकार क्षेत्र के तहत किसी के द्वारा नहीं किया जाएगा। इन 8 सॉफ्टवेयरों की सूची में Alipay, कैमस्कैनर, क्यूक्यू वॉलेट, शेयरइट, टैलेंट क्यूक्यू, वीचैट पे और वैट शामिल हैं। ट्रम्प के कार्यकारी आदेश में कहा गया है कि 'संयुक्त राज्य अमेरिका में प्रसार और प्रसार, कुछ जुड़े हुए मोबाइल और डेस्कटॉप एप्लिकेशन और अन्य सॉफ्टवेयर जो कि पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना में व्यक्तियों द्वारा विकसित या नियंत्रित किए गए हैं
संयुक्त राज्य अमेरिका की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेश नीति के लिए खतरा बन रहे हैं। आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब डोनाल्ड ट्रम्प ने इस तरह के चेक का आदेश दिया है। इससे पहले भी वे कई चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा चुके हैं। पिछले साल, ट्रम्प ने एक आदेश पर 45 दिनों के भीतर चीनी ऐप टिकटकोटा और वीचैट पर प्रतिबंध लगा दिया। आदेश में कहा गया है कि ये ऐप राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा हैं।

Similar News

Sign up for the Newsletter

Join our newsletter and get updates in your inbox. We won’t spam you and we respect your privacy.