यूपी जन पूर्वानुमान अलर्ट गेलन ने 15 जनवरी तक यूपी के सात जिलों मेरठ बरेली शाहजहांपुर हरदोई कानपुर सोनभद्र और मुजफ्फरनगर में भीषण सर्दी होगी में शीत लहर चलेगी। अगले 48 घंटों में और अधिक ठंड होने की संभावना है।

15 जनवरी तक यूपी के सात जिलों में शीतलहर की आशंका

यूपी में लोग ठंड से पीड़ित हैं। कोहरे ने एक बार फिर सूर्यदेव को हरा दिया। ठंड के कारण फतेहपुर में एक 55 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। मौसम विभाग ने फिर से यूपी के सात जिलों में शीतलहर का अलर्ट जारी किया है, जबकि पूरे यूपी में ठंड का प्रकोप जारी रहेगा। बता दें, बुधवार को दिन भर धूप नहीं निकल सकी। उसी समय, पहाड़ों से आने वाली बर्फीली हवा ने आम लोगों को अपने घरों में दुबकने के लिए मजबूर कर दिया। मौसम विभाग ने तीन दिन पहले यूपी में कोल्ड अलर्ट जारी किया था। इसने सहारनपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, मेरठ, बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली में 13 जनवरी तक शीत लहर चलने की चेतावनी दी। दूसरी ओर, बुधवार को सात जिलों के लिए अलर्ट जारी किया गया है। इसमें मुजफ्फरनगर, मेरठ, बरेली, शाहजहांपुर, हरदोई, कानपुर नगर, सोनभद्र और इसके आसपास के इलाकों में 15 जनवरी तक शीत लहर की चेतावनी दी गई है। मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के मुताबिक पहाड़ों से आ रही उत्तर पश्चिमी हवा मैदानी इलाकों में ठंड बढ़ा रही है।

ऐसे में जहां कुछ जिलों में शीतलहर होगी, वहीं अन्य जिलों में ठंड का प्रकोप रहेगा। सुबह कोहरा और दिन में ठंडी हवा यूपी में मुश्किलें बढ़ा रही हैं। मकर संक्रांति पर्व पर राजधानी में ठंड का प्रकोप रहेगा। बुधवार को सुबह हल्का कोहरा था, दिन में धूप खिली रही, लेकिन बर्फीली हवाओं का रुख जारी रहा। दूसरी ओर, कानपुर के चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डॉ। एसएन सुनील पांडे ने कहा कि अगले 48 घंटों में और अधिक सर्दी होने की संभावना है। पहाड़ों से मैदानी इलाकों की ओर लगातार ठंडी हवा आ रही है। फ्रॉस्ट भी हो सकता है, ऐसी स्थिति में, किसानों को सिंचाई और दवा के छिड़काव से फसलों की रक्षा करनी चाहिए। लखनऊ में अधिकतम तापमान 17.4 डिग्री, जबकि न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। गोरखपुर का अधिकतम तापमान सामान्य से 8.2 डिग्री कम हो गया। इसी तरह बहराइच का अधिकतम पारा 5.8 से नीचे, मेरठ में 6.1, अलीगढ़ में 6.3, हरदोई में 5.1, सुल्तानपुर में 4.9 रहा।

कानपुर में अधिकतम तापमान 17.0 और न्यूनतम तापमान 3.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कानपुर देहात और कन्नौज में न्यूनतम तापमान 3.8, इटावा में 4, उन्नाव और फतेहपुर में 5, हमीरपुर और चित्रकूट में 7, फर्रुखाबाद में 7 और औरैया, बांदा और महोबा में ओराई में 6 डिग्री दर्ज किया गया। प्रयागराज में न्यूनतम तापमान 6.2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। प्रतापगढ़ में न्यूनतम तापमान पांच डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मंगलवार की तुलना में संगमनगर का न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस कम हो गया। आगरा में न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम 4.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कासगंज में अधिकतम तापमान 17 और न्यूनतम चार डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मैनपुरी का न्यूनतम तापमान छह और अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पश्चिम उत्तर प्रदेश सर्द हवाओं के बीच ठिठुर रहा था। आगरा के घने कोहरे से दृश्यता कम हो गई थी। सुबह 11 बजे के बाद यहां धूप निकली। कोहरा छा गया मथुरा।
दृश्यता कम होने के कारण यमुना एक्सप्रेसवे पर कई वाहन टकरा गए। मैनपुरी में बुधवार की सुबह आबादी वाले इलाके में कोहरा दिखाई दिया, जबकि बाहरी इलाके में घना था। सुबह 11 बजे के बाद धूप निकली। अलीगढ़ में पिछले तीन दिनों से कड़ाके की ठंड से जनजीवन प्रभावित हो रहा है। बुधवार की सुबह भी घने कोहरे के साथ हुई। कोहरे के कारण दृश्यता पांच डिग्री के आसपास थी, जबकि दृश्यता कम थी। 50 मीटर की दूरी पर कुछ भी नहीं देखा जा सकता था। नौ बजे तक कोहरे ने वातावरण को ढक दिया। ज्यादातर लोग घरों में रजाई में दुबके रहे। हाथरस में दोपहर तक कोहरा छाया रहा। मुरादाबाद में बुधवार को मौसम साफ रहा। सुबह से ही धूप थी, हालांकि धूप में ज्यादा गर्मी नहीं थी लेकिन गलन भरी ठंड से राहत थी। सुबह की धूप से जिंदगी पटरी पर दिखाई दी। बुधवार को पूर्वांचल में 15 से 20 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ठंडी हवा चलने के साथ पारा लुढ़क गया और नीचे तक पहुंच गया।

Similar News

Sign up for the Newsletter

Join our newsletter and get updates in your inbox. We won’t spam you and we respect your privacy.