भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी की सुरक्षा, उन्हें भारत सरकार द्वारा Z + सिक्योरिटी कवर भी दिया गया है।

NSG के घातक कमांडो मुकेश अंबानी की सुरक्षा में रहते हैं, एंटीलिया किसी किले से कम नहीं है

मुकेश अंबानी, रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के चेयरमैन, चौबीस घंटे जेड प्लस सिक्योरिटी कवर में हैं। गुरुवार को उनके मुंबई स्थित बंगले 'एंटीलिया' से लगभग 400 मीटर की दूरी पर एक संदिग्ध कार मिली। जब इसकी तलाशी ली गई तो अंदर जिलेटिन (विस्फोटक पदार्थ) की 20 छड़ें मिलीं। एक धमकी भरा पत्र भी मिला, जिसमें पूरे अंबानी परिवार के मारे जाने की बात कही गई है। दक्षिण मुंबई के उस इलाके में, जहां अंबानी रहते हैं, सेलिब्रिटीज का एक घर है। उनका अपना बंगला किसी किले से कम नहीं है, जहां निजी सुरक्षा गार्ड हमेशा तैनात रहते हैं। आइए जानते हैं कि देश के सबसे अमीर आदमी की सुरक्षा व्यवस्था कैसी है। मुकेश अंबानी को मिला Z + सिक्योरिटी कवर। यह प्रधान मंत्री की सुरक्षा के तहत तैनात विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) के बाद भारत में दूसरा सबसे बड़ा सुरक्षा घेरा है।

अनुमान है कि यह सुरक्षा कवर कितना महत्वपूर्ण है, अब तक केवल 17 लोगों को Z + सुरक्षा दी गई है। इसके तहत, मुकेश अंबानी के संरक्षण में 55 उच्च प्रशिक्षित सुरक्षाकर्मी हमेशा तैनात रहते हैं। इस कवर में कम से कम 10 कमांडो ऑफ नेशनल सिक्योरिटी गार्ड्स (NSG) होते हैं। सभी सुरक्षाकर्मियों को मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण दिया जाता है। उनके पास घातक MP5 बंदूकें और एक से अधिक संचार और सुरक्षा गैजेट हैं। अंबानी को वर्ष 2013 में जेड सुरक्षा दी गई थी, जिसे नरेंद्र मोदी सरकार ने बढ़ाकर जेड प्लस कर दिया था। जब अंबानी अपने राज्य में होते हैं, तो पूरी सुरक्षा घेरा उनके साथ होता है। जब वे बाहर जाते हैं तो कुछ कमांडो उनके साथ होते हैं और संबंधित राज्य सुरक्षा के बाकी इंतज़ाम करता है। मुकेश अंबानी को चौबीसों घंटे उपलब्ध इस सुरक्षा का खर्च उठाना पड़ता है।

एक अनुमान के मुताबिक, जेड प्लस सुरक्षा के लिए मुकेश अंबानी हर महीने करीब 22 हजार डॉलर (करीब 16 लाख रुपये) का बिल चुकाते हैं। इस खर्च के अलावा, अंबानी को सुरक्षाकर्मियों के ठहरने की व्यवस्था भी करनी पड़ती है। अंबानी केवल सरकारी सुरक्षा पर निर्भर नहीं हैं। उसकी अपनी निजी सुरक्षा भी है। एनएसजी के सेवानिवृत्त कर्मचारियों के अलावा, इसमें सेना और अर्धसैनिक बलों के सेवानिवृत्त सैनिक भी शामिल हैं। सभी अंबानी की कारें सशस्त्र और बुलेटप्रूफ हैं। वे अपने घरों को बिना सुरक्षा के नहीं छोड़ते हैं। पूरा काफिला साथ चलता है। मुंबई स्थित मुकेश अंबानी की हवेली 'एंटीलिया' दुनिया के सबसे महंगे एशियाइयों में से एक है। चार लाख वर्ग फीट में फैली यह इमारत दक्षिण मुंबई के अल्टामाउंट रोड पर स्थित है। इस 27 मंजिला इमारत की प्रत्येक मंजिल लगभग दो मंजिलों के बराबर है।
इसका डिजाइन ऐसा है कि यह रिक्टर स्केल पर 8 तीव्रता के भूकंप को आसानी से झेल सकता है। एंटीलिया की सुरक्षा निजी हाथों में है। यहां चौबीसों घंटे निजी सुरक्षा गार्ड तैनात रहते हैं। इसके अलावा मुंबई पुलिस की एक टीम भी मौजूद है। एंटीलिया की छत पर 3 हेलीपैड हैं जो न केवल अंबानी परिवार की सुविधा के लिए हैं, बल्कि आपातकालीन स्थिति पर तुरंत बाहर निकलने के लिए भी हैं। भवन में नौ लिफ्ट हैं। 27 मंजिलों में से छह केवल अंबानी परिवार की कारों के लिए हैं। मनोरंजन केंद्र जिसमें जिम, स्पा, कई स्विमिंग पूल, जकूज़ी, योग और डांस स्टूडियो जैसी सुविधाएं हैं। अंबानी परिवार इमारत की सबसे ऊपरी मंजिल में रहता है। 27 मंजिला इमारत में एक बगीचा भी है और पर्यावरण को देखते हुए व्यवस्था की गई है। खबरों के अनुसार, एंटीलिया में लगभग 600 लोग काम करते हैं जिनमें सुरक्षा गार्ड के अलावा अन्य कर्मचारी भी शामिल हैं।

Similar News

Sign up for the Newsletter

Join our newsletter and get updates in your inbox. We won’t spam you and we respect your privacy.